नोरा फतेही की रैंप वॉक के दौरान काले कोट वाले शख्स ने की छेड़छाड़, मचा हंगामा!

नोरा फतेही की रैंप वॉक के दौरान काले कोट वाले शख्स ने की छेड़छाड़, मचा हंगामा!

Share with
Views : 1206

देश की जानी-मानी डांसर और अभिनेत्री नोरा फतेही को बीते गुरुवार को एक फैशन शो के दौरान शर्मनाक अनुभव से गुजरना पड़ा. मेरठ के एक पॉश होटल में आयोजित इस कार्यक्रम में जब नोरा रैंप पर वॉक कर रही थीं, तभी काले कोट पहने एक शख्स अचानक सुरक्षा घेरे को तोड़कर उनके पास पहुंच गया और अभद्र हरकत करने लगा. इस घटना से वहां मौजूद सभी लोग सन्न रह गए और हंगामा मच गया.

घटना के प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, नोरा जैसे ही रैंप पर आगे बढ़ीं, उसी दौरान काले कोट पहने एक व्यक्ति ने सुरक्षाकर्मियों को धक्का देकर उनके करीब पहुंचने की कोशिश की. हालांकि सुरक्षाकर्मियों ने उसे रोकने की कोशिश की, लेकिन वह उनसे बच निकलने में कामयाब हो गया. इसके बाद उसने नोरा के सामने आपत्तिजनक इशारे किए और कुछ अभद्र शब्द भी कहे.

नोरा ने इस अप्रिय घटना को काफी संभाल के संभाला. उन्होंने बिना घबराए अपनी वॉक जारी रखी और चेहरे पर मुस्कुराहट बनाए रखी. हालांकि, उनकी आंखों में असहजता साफ देखी जा रही थी. कुछ देर बाद सुरक्षाकर्मियों ने उस शख्स को पकड़कर कार्यक्रम स्थल से बाहर निकाल दिया.

इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर हंगामा मच गया. लोगों ने नोरा के साथ हुई छेड़छाड़ की कड़ी निंदा की और सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाए. कई लोगों ने पुलिस से इस मामले की कड़ी कार्रवाई की मांग की है.

नोरा फतेही ने अभी तक इस घटना पर कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया है. हालांकि, उनके करीबी सूत्रों का कहना है कि वह इस घटना से काफी हिल गई हैं और उन्हें सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है.

पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी की तलाश शुरू कर दी है. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उसकी पहचान करने की कोशिश की जा रही है. पुलिस का कहना है कि जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

नोरा फतेही के साथ हुई इस घटना से एक बार फिर से सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं. खासकर ऐसे कार्यक्रमों में जहां हाई-प्रोफाइल हस्तियां शामिल होती हैं, सुरक्षा के इंतजामों को और मजबूत करने की जरूरत है. साथ ही, इस तरह की घटनाओं के खिलाफ सख्त कानून बनाने और उनका प्रभावी ढंग से पालन कराने की भी जरूरत है.

इस घटना ने निम्नलिखित सवालों को जन्म दिया है:

  • कार्यक्रम में सुरक्षा व्यवस्था इतनी कमजोर कैसे हो सकती है?
  • आरोपी इतनी आसानी से सुरक्षा घेरे को कैसे तोड़ पाया?
  • इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए क्या कदम उठाए जाने चाहिए?
  • क्या कानून में छेड़छाड़ के मामलों के लिए सजा को और सख्त बनाने की जरूरत है?

उम्मीद है कि नोरा फतेही के साथ हुई इस घटना से सबक लेकर भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोका जा सकेगा और महिलाओं को सुरक्षित माहौल में काम करने और घूमने का अधिकार मिलेगा.

कृपया ध्यान दें: यह खबर काल्पनिक है और वास्तविक घटनाओं पर आधारित नहीं है

error: कॉपी नहीं होगा भाई खबर लिखना सिख ले